हिंदी फिल्मों के 34 डायलॉग जो आपको हमेशा Motivate करेंगे

हिंदी फिल्मों के 34 डायलॉग जो आपको हमेशा Motivate करेंगे (34 Dialogues of hindi bollywood films)

hindi film dialogsफिल्मे आज लोगों की ज़िंदगी का एक हिस्सा बन चुकी हैं। ज्यादातर लोग फिल्मों को अपनी बोरियत दूर करने का और मनोरंजन का साधन समझते हैं। लेकिन अगर आप फिल्मों को ध्यान से देखोगे तो पाओगे कि फिल्मे मनोरंजन का साधन होने के साथ साथ एक सामाजिक सन्देश भी देती हैं। फ़िल्में सामाजिक घटनाओं और कल्पनाओं पर आधारित होती हैं। जो हमें ज़िंदगी और समाज के हर एक पहलू को जानने और समझने का मौका देती हैं और हमें अपनी ज़िंदगी को बेहतर बनाने को प्रेरित करती हैं।

लेकिन कुछ लोग फिल्मों के नकारात्मक पक्ष को देखते हैं और वैसा ही बनने की कोशिश करते हैं। जबकि असलियत में फिल्मे हमारे आसपास की घटनाओं को दिखाकर उनसे सीख लेकर अपनी ज़िंदगी को बेहतर बनाने का सन्देश देती हैं।

आज Gyan versha पर मैं आपके सामने ऐसी ही कुछ फिल्मों के 34 डायलॉग बताने जा रहा हूँ, जो हमें जिंदगी में मुसीबतों, मुश्किलों से हारने के बजाय आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं, जीतने के लिए प्रेरित करते हैं।

 

1. जो हारता है, वही तो जीतने का मतलब जानता है।      (इमरान हाशमी…. फिल्म – जन्नत में )

2. बाबू मोशाय ! जिंदगी बड़ी होनी चाहिए…. लम्बी नही !!            (राजेश खन्ना…. फिल्म  -आनंद में )

3. हिम्मत बताई नही… दिखाई जाती है….!!     (अजय देवगन ….फिल्म   -वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई में )

4. भगवान् के भरोसे मत बैठिये , क्या पता भगवान् हमारे भरोसे बैठा हो।     (नवाजुद्दीन सिद्दीकी ….फिल्म – मांझी :द माउंटेन मैन में )

5. जो अपने बीते हुए कल से भागता है वो ज़िंदगी की रेस कभी नहीं जीतता।  (अजय देवगन ..फिल्म – वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई में )

6. जो लोग अपने सपने पूरे नहीं करते ना …..वो दूसरों के सपने पूरे करते हैं।   (इमरान हाशमी…. फिल्म -आवारापन में )

7. बच्चा काबिल बनो, काबिल…! कामयाबी तो साली झक मार कर पीछे भागेगी।    (आमिर खान ….फिल्म – 3 इडियट में )

8. लहरों के साथ तो कोई भी तैर लेता है ..पर असली इंसान वो है जो लहरों को चीरकर आगे बढ़ता है।  (दलीप ताहिल…. फिल्म – गुलाम में )

9. खुदी को कर बुलंद इतना …कि हर तकदीर से पहले .. खुदा बन्दे से खुद पूछे….बता तेरी रज़ा क्या है?  (राजकुमार ….फिल्म – बुलंदी में )

10. जो काम दुनिया को नामुमकिन लगे, वही मौका होता है करतब दिखाने का।   (आमिर खान ….फिल्म  -धूम 3 में )

11. अगर शतरंज की बाज़ी जीतनी हो ….तो उसे दस दिमाग से नहीं …..एक दिमाग से खेलना चाहिए।  (आमिर खान ….फिल्म – बाजी में )

12. नजदीकी फायदा देखने से पहले दूर का नुकसान सोचना चाहिए।    (अमिताभ बच्चन ….फिल्म  -सरकार में )

14. मैं उठना चाहता हूं, दौड़ना चाहता हूं, गिरना भी चाहता हूं….बस रुकना नहीं चाहता।  (रणवीर कपूर ….फिल्म – ये जवानी है दीवानी में )

15. हर आदमी में दो तरह की क्वालिटी होती है …..एक ऊपर ले जाने वाली और दूसरी नीचे ले जाने वाली …….और दोनों में से जो क्वालिटी जीत जाती है …वो उसी तरह की ज़िंदगी जीने लगता है।      (मनीष चौधरी…. फिल्म  -राकेट सिंह में )

16. सच्चा बहादुर वो होता है जो तूफानी समुन्दर के बीच में जाकर मछली पकड़ने का जाल फेंकता है ……किनारे बैठकर पानी में काँटा डाले मछली के फंसने का इंतजार करने वाले को बहादुर नहीं कहते।    (अमिताभ बच्चन…. फिल्म  – आख़री रास्ता में )

17. गिरो सालों और गिरो …लेकिन गिरो तो उस झरने की तरह गिरो …जो पर्वत कि ऊंचाई से गिर कर भी अपनी सुंदरता खोने नहीं देता …..जमीन की तह से मिलकर भी अपने अस्तित्व को नष्ट नहीं होने देता।    (नाना पाटेकर ….फिल्म  – यशवंत में )

18. अगर हालत के गुलाम बनोगे ना….तो दुनिया तुम्हे कुत्ता समझकर लात मारेगी …..लेकिन अगर हालात को अपना गुलाम बनाओगे ना…..तो दुनिया तुम्हे शेर समझकर सलाम करेगी।   (प्रिया तेंदुलकर ….फिल्म  – त्रिमूर्ति में )

19. दुनिया के सबसे बेहतरीन और मशहूर लोग वो होते है जिनकी अपनी एक अदा होती है…. वो अदा जो किसी की नक़ल करने से नही आती… वो अदा जो उनके साथ जन्म लेती है…!!     (आदित्य  रॉय कपूर ….फिल्म – आशिकी 2 में )

20. जिंदगी में जीत सिर्फ उसी की नहीं होती है जो बहुत ताकतवर होता है, तेज होता है …चालाक होता है ….अंत में जीत उसकी होती है जो अपने ऊपर विश्वास कर सकता है।       (अनुपम खेर ….फिल्म  – प्यार इम्पॉसिबल में )

21. दुनियां में बहुत सी ऐसी बातें होती हैं जो नामुमकिन नज़र आती हैं …. लेकिन अगर इंसान हिम्मत से काम करे और वो सच्चा है ……तो जीत उसी की होती है।        (प्रेमनाथ ….फिल्म  – तीसरी मंजिल में )

22. जिंदगी में कभी जीत होती है तो कभी हार ….. लेकिन अगर हम कोशिश करने से पहले ही हार मान लें ….तो हमें पता कैसे चलेगा की हम हारने वाले थे या फिर शायद जीतने वाले थे।     (विवेक ओबेरॉय…. फिल्म  – क्यों हो गया ना में )

23. अगर तुम गलत रास्ते पर चलोगे …तो हो सकता है शुरुआत में तुम्हे बहुत कामयाबी मिले, बहुत खुशियां ….मगर अंत में तुम्हारी हार होगी……और अगर तुम सही रास्ते पर चलोगे ….तो भले ही शुरुआत में तुम्हे कदम कदम पर ठोकरें मिलें,…मुसीबतों का सामना करना पड़े…..मदर अंत में हमेशा तुम्हारी जीत होगी।      (शाहरुख़ खान ….फिल्म  – दिलवाले दुल्हनियां ले जायेंगे में )

24. ज़िंदगी में अगर कुछ बनना हो..कुछ हासिल करना हो…कुछ जीतना हो….तो हमेशा दिल की सुनो…और अगर दिल कोई जवाब न दे, तो आँखे बंद करके अपनी माँ और पापा का नाम लो ….फिर देखना हर मंजिल पार कर जाओगे….हर मुश्किल आसान हो जाएगी…….जीत तुम्हारी होगी…सिर्फ तुम्हारी।    (शाहरुख़ खान ….फिल्म  – दिलवाले दुल्हनियां ले जायेंगे में )

25. घोड़ी जब रेस में दौड़ती है ना.. तो बीच रास्ते में नहीं रूकती …मंजिल तक दौड़ती है….चाहे फिर वो रेस जीते या हारे।                                                                                                                                                  (मल्लिका शेरावत ….फिल्म – डर्टी पॉलिटिक्स में )

26. अगर हमारी किस्मत में जीतना लिखा होगा तो हम जीतेंगे ….लेकिन हम हारने तक हार नहीं मानेंगे।                                                                                                                                                                      (इमरान हाशमी .…फिल्म  – गुड बॉय बैड बॉय” में )

27. इंसान जब लक के भरोसे पे खेलता है …तो उसे हारने का डर रहता है….मगर जो दिल से खेलता है …लक हमेशा उसका साथ देता है।                                                                                                                                                                             (डैनी ….फिल्म -लक में )

28. मौके मिलते नहीं…. बनाये जाते हैं …..कामयाबी हम तक नहीं आती ….हमें कामयाबी तक जाना होता है ।                                                                                                                                                                 (फरहान अख्तर…. फिल्म -लक बाई चांस में )

29. उठो , मुकाबला करो….और जीतो……..जीतने के लिए तुम्हे ना किसी इज़ाज़त की ज़रूरत है और ना किसी सिफारिश की।                                                                                                                                          (असरानी ….फिल्म  -दिल विल प्यार व्यार में )

30. कोशिश वो सीढ़ी है …कि पांव टिके तो कामयाबी …….और अगर पांव फिसले…. तो भी उम्मीद बरक़रार रहती है।
                                                                                                                                 (प्रियांशु चटर्जी ….फिल्म  -जूली में )

31. आदमी अपने जज्बात और उतावलेपन से नहीं …….अपनी मेहनत और दिमाग से कामयाब होता है।
                                                                                                                                (शिशिर शर्मा ….फिल्म  -ओम जय जगदीश में )

32. जीतना सभी चाहते हैं …..लेकिन जीतता सिर्फ वो है ….जो अपना सब कुछ भूलकर सिर्फ अपने मकसद को जीतता है।
                                                                                                                                    (सुनील शेट्टी ….फिल्म  -देसी कट्टे में )

33. अपने मकसद में कामयाबी हासिल करने के लिए ….ताकत से ज्यादा हिम्मत की ज़रूरत होती है।
                                                                                                                                 ( मुकेश खन्ना ….फिल्म -जज मुजरिम में )

34. इंसान की ज़िंदगी एक आईने की तरह होती है … फर्क सिर्फ इतना है कि आम आईने में हम जो हरकत करते हैं उसकी तस्वीर उसी वक़्त नज़र आ जाती हैं …..मगर ज़िंदगी  वो आइना है जिसमें आज की हुई हरकत की तस्वीर बरसों बाद नज़र आती है।        ( कादर खान ….फिल्म  – जैसी करनी वैसी भरनी में )

 

तो दोस्तों, आज के बाद फ़िल्में देखते हुए ये भी देखने की कोशिश करें कि वो फिल्म क्या सन्देश दे रही हैं ? और हम उससे अपनी और दूसरे लोगों की जिंदगी को किस तरह से बेहतर बना सकते हैं? और अगर कभी भी ज़िंदगी में नकारात्मक विचार आएं तो ऊपर दिए गए डायलॉग को ध्यान से पढ़ें मुश्किल आसान हो जाएगी ।

Click here to see Motivational Thoughts in Image
Click here to see Positive Quotes in Image
Click here to see Inspirational Quotes in Image.


“आपको ये प्रेरणादायक आर्टिकल कैसा लगा  , कृप्या कमेंट के माध्यम से  मुझे बताएं ………धन्यवाद”

“यदि आपके पास हिंदी में  कोई  Life Changing Article, Positive Thinking, Self Confidence, Personal Development,  Motivation , Health या  Relationship से  related कोई  story या जानकारी है  जिसे आप  इस  Blog पर  Publish कराना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो और  details के साथ  हमें  gyanversha1@gmail.com  पर  E-mail करें।

पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. ………………धन्यवाद् !”

—————————————————————————————————–

दोस्तों ये ब्लॉग लोगो की सेवा के उद्देश्य से बनाया गया है ताकि इस पर ऐसी पोस्ट प्रकाशित की जाये जिससे लोगो को अपनी ज़िंदगी में आगे बढ़ने में मदद मिल सके ……… अगर आपको हमारा ये ब्लॉग पसंद आता है और इस पर प्रकाशित पोस्ट आपके लिए लाभदायक है तो कृपया इसकी पोस्ट और इस ब्लॉग को ज़्यादा से ज़्यादा Share करें ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोगो को इसका लाभ मिल सके………
और सभी नयी पोस्ट अपने Mail Box में प्राप्त करने के लिए कृपया इस ब्लॉग को Subscribe करें।


 

नए पोस्ट अपने E-mail पर तुरंत प्राप्त करने के लिए यहाँ अपना नाम और E-mail ID लिखकर Subscribe करें।

About Pushpendra Kumar Singh 153 Articles
Hi Guys, This is Pushpendra Kumar Singh behind this motivational blog. I founded this blog to share motivational articles on different categories to make a change in human livings. I love to serve the people and motivate them.I love to read and write motivational things. Be friend with Pushpendra at Facebook Google+ Twitter

12 Comments

4 Trackbacks / Pingbacks

  1. 38 प्रेरणादायक विचार जो आपकी सोच को बदल सकते हैं | Gyan Versha
  2. 39 प्रेरणादायक विचार जो आपकी सोच को बदल सकते हैं | Gyan Versha
  3. 75 विचारों से बदलिये अपने सोचने का नजरिया | Gyan Versha
  4. Google AdSense Approval : मेहनत का फल और जिंदगी की नयी शुरुआत | Gyan Versha

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*