50 से भी ज्यादा बार फेल होने वाला शख्स कैसे बना अरबपति

jack ma quotes in hindi

जैक मा : 50 से भी ज्यादा बार फेल होने वाला शख्स कैसे बना अरबपति

jack ma success storyदोस्तों,आज मैं आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहा हूँ जो ना जाने कितनी बार अपनी ज़िंदगी में फेल हुआ है, ना जाने उसे कितनी बार reject  किया गया है, ना जाने कितनी मुश्किलों और निराशाओं का सामना किया है इस शख्स ने |

क्या आप अंदाजा लगा सकते हैं कि इतने rejection  और निराशाओं के बाद उस शख्स ने क्या किया होगा ?

आज वो शख्स एशिया का दूसरा तथा दुनिया का 18 वां सबसे धनी व्यक्ति है| उस शख्स का नाम है जैक मा|

चीन के रहने वाले जैक मा के पास ना तो कॉलेज की डिग्री है और ना ही वे बहुत ज्यादा हैंडसम हैं  लेकिन उन्होंने ऐसा काम कर दिखाया है जो handsome  और degree holder  व्यक्ति भी नहीं कर सकता | जैक मा अलीबाबा ग्रुप के फाउंडर हैं | वे चीन के सबसे धनी व्यक्ति हैं तथा एशिया के दूसरे सबसे धनी व्यक्ति हैं | आपकी जानकारी के लिए बता दूँ कि एशिया में कुल 48 देश हैं | यानि कि 48 देशो में दूसरे सबसे धनी व्यक्ति | भारत के सबसे धनी व्यक्ति मुकेश अम्बानी इस लिस्ट में चौथे नंबर पर हैं

आज मैं आपको जैक मा की प्रेरणादायक ज़िंदगी के बारे में बता रहा हूँ |

आरंभिक जीवन

जैक मा का जन्म 15 अक्टूबर 1964 को चीन में हुआ था | 13 वर्ष की उम्र में उन्होंने अंग्रेजी सीखनी शुरू कर दी | अंग्रेजी सीखने के लिए वे टूरिस्ट गाइड बन गए थे | वे टूरिस्टों से अंग्रेजी में ही बात किया करते थे | करीब नौ साल ये काम करने के बाद वे एक स्कूल में अंग्रेजी के अध्यापक बन गए |

जिंदगी में हुए कई बार फेल

जैक मा 5 वीं में 2 बार तथा 8 वीं में 3 बार फेल हुए थे | ग्रेजुएशन करने के लिए अमेरिका की Harward University  ने उन्हें एडमिशन देने से करीब 10 बार मना किया था | लगभग 30 नौकरियों में उन्होंने apply किया था और सभी में reject कर दिए गए थे | एक बार उन्होंने K.F.C.  में भी apply किया था तब कुल मिलकर 25 लोगों ने apply किया था उनमे से 24 लोग select हो गए और अकेले ये ही reject हुए थे |

बिज़नेस की शुरुआत  

इतनी बार फेल होने तथा रिजेक्ट होने के बाद भी इन्होने हिम्मत नहीं हारी, ये निराश नहीं हुए बल्कि सकारात्मक सोच के साथ एक ट्रांसलेशन कंपनी खोली| इसी दौरान ये अमेरिका गए | वहां पर इन्होने पहली बार इंटरनेट का नाम सुना और पहली बार जाना कि घर बैठे लोग भी इंटरनेट के द्वारा एक दूसरे से जुड़ सकते हैं | इसी सोच के साथ इन्होने चीन लौटकर चीन की पहली ऑनलाइन डायरेक्टरी “China Pages” लांच की | इसकी कामयाबी से जैक मा चीन में Mr. Internet  के नाम से मशहूर हो गए |

अलीबाबा कंपनी की शुरुआत

चीन में इंटरनेट का ज्यादा प्रसार ना होने की वजह से मा को “China Pages”को बंद करना पड़ा | इसके बाद उन्होंने 1998 में Shoping website alibaba.com की शुरुआत की | लेकिन शुरुआत में उनके सामने कई समस्याएं आयीं | तीन सालों तक उन्हें कोई मुनाफा नहीं हुआ | उनकी वेबसाइट की सबसे बड़ी समस्या थी कि Online Payment  का कोई तरीका उनके पास नहीं था | और कोई भी बैंक उनके साथ काम करना नहीं चाहता था |

तब उन्होंने अपना खुद का Payment System  बनाने का फैसला किया और इसका नाम रखा  “AliPay” . aliPay से इंटरनेशनल ग्राहकों के बीच पैसे का आदान प्रदान बहुत आसान हो गया |

दोस्तों, जब जैक मा ने अपना आईडिया लोगो को बताया था तब भी लोगों ने उन्हें मूर्ख कहा था और कहा था कि ये सबसे मूर्खतापूर्ण आईडिया है जो तुम सोच सकते हो | तब जैक ने कहा कि उन्हें इस बात कोई फर्क नहीं पड़ता अगर इस सुविधा से लोगो का काम आसान हो जाता है |

आज 800 मिलियन लोग AliPay का इस्तेमाल करते है | उनकी वेबसाइट Alibaba.com पर रोजाना 100 मिलियन Customers आते हैं | आज अलीबाबा ग्रुप में लगभग 34985 कर्मचारी काम करते हैं | तथा अलीबाबा की मार्किट वैल्यू 231 अरब डॉलर है तथा जैक मा की संपत्ति 24.1 अरब डॉलर (130800 करोड़ / 1300 अरब रूपए) है |

आज अलीबाबा E-Commerce  कंपनी दुनिया में सबसे अधिक Online सामान बेचती है। इसकी क्षमता का अंदाजा आप इसी से लगा सकते है कि यह Amazon और E-bay  से भी अधिक बड़ी कंपनी है।

3

उपलब्धियाँ

  • 2004 में America Central Television द्वारा  “Top 10 Business Leaders of the Year”  चुने गए |
  • 2005 में World Economic Forum ने  “Young Global Leader” सम्मान से नवाजा | उसी वर्ष Forbes Magazine  ने “25 Most Powerful Business People in Asia”  में से एक चुना |
  • 2008 में Barrons ने “One of the 30 World’s Best CEO” चुना|
  • 2009 में Forbes Magazine ने “Top 10 Most Respected Entrepreneurs in China” चुना |
  • 2014 में Forbes ने “30th Most Powerful Person in the World” में से एक चुना|
  • जापान के Soft bank के Board Member  हैं |

तो दोस्तों, आपने देखा कि कैसे एक आदमी इतनी सारी मुश्किलों, समस्याओं, failures, rejections , निराशाओं से निकलकर अपनी सकारात्मक  सोच, मेहनत तथा लगन से जमीन से उठकर आसमान की बुलंदी पर पहुँच  गया और सारी दुनिया में छा गया |

जैक मा की पत्नी कहती हैं कि जैक हैंडसम नहीं हैं लेकिन मुझे उनसे इसलिए प्यार हो गया कि वे ऐसे कई काम कर सकते हैं जो हैंडसम पुरुष भी नहीं कर सकते |

तो दोस्तों, जैक मा से हमें ये प्रेरणा मिलती है कि हमें कभी भी निराश नहीं होना चाहिए , हमें कभी भी हिम्मत नहीं हारनी चाहिए चाहे हम कितनी बार भी फेल हों, चाहे हम कितनी बार भी रिजेक्ट हों | हमें हमेशा मजबूत होकर, दृढ होकर सभी समस्याओं, मुश्किलों का सामना करते हुए अपने लक्ष्य की और बढ़ना चाहिए, अपने सपने को साकार करना चाहिए |

अगर आपके अंदर दृढ विश्वास है, आपको अपने काम से लगाव है तथा अपने ऊपर भरोसा है तो कोई भी समस्या, कोई भी मुश्किल आपका रास्ता नहीं रोक सकती | आप सफल होंगे ही |

……Best of Luck

Source – Wikipedia, Internet


“आपको ये लेख कैसा लगा  , कृप्या कमेंट के माध्यम से  मुझे बताएं ………धन्यवाद”

“यदि आपके पास Hindi में  कोई  Article, Positive Thinking, Self Confidence, Personal Development या  Motivation , Health से  related कोई  story या जानकारी है  जिसे आप  इस  Blog पर  Publish कराना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ  हमें  E-mail करें |

हमारी  E-mail Id है : gyanversha1@gmail.com.

पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. ………………धन्यवाद् !”

——————————————-

दोस्तों ये ब्लॉग लोगो की सेवा के उद्देश्य से बनाया गया है ताकि इस पर ऐसी पोस्ट प्रकाशित की जाये जिससे लोगो को अपनी ज़िंदगी में आगे बढ़ने में मदद मिल सके ……… अगर आपको हमारा ये ब्लॉग पसंद आता है और इस पर प्रकाशित पोस्ट आपके लिए लाभदायक है तो कृपया इसकी पोस्ट और इस ब्लॉग को ज़्यादा से ज़्यादा Share करें ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोगो को इसका लाभ मिल सके………
और सभी नयी पोस्ट अपने Mail Box में प्राप्त करने के लिए कृपया इस ब्लॉग को Subscribe करें |

 

नए पोस्ट अपने E-mail पर तुरंत प्राप्त करने के लिए यहाँ अपना नाम और E-mail ID लिखकर Subscribe करें।
loading...
Loading...
About Pushpendra Kumar Singh
Hi Guys, This is Pushpendra Kumar Singh behind this motivational blog. I founded this blog to share motivational articles on different categories to make a change in human livings. I love to serve the people and motivate them.I love to read and write motivational things. Be friend with Pushpendra at Facebook Google+ Twitter

26 Comments on 50 से भी ज्यादा बार फेल होने वाला शख्स कैसे बना अरबपति

  1. प्रेरक प्रस्तुति हेतु आभार!

  2. Yogi saraswat // December 2, 2015 at 1:50 PM // Reply

    बहुत ही शानदार यात्रा रही है अलीबाबा कंपनी की ! जैक मा की हिम्मत और जज्बे से बहुत कुछ सीखा जा सकता है !!

  3. Pushpender ji.
    Apke likhne ka andaaz bahut pasand aaya mujhe. ek line padhne ke baad apka article apne aap apni taraf dhyan khinchne lagta hai. Keep it up this wonderful writing.

    • आपका बहुत बहुत धन्यवाद और आभार …………….बस ऐसे ही आप लोगों का प्यार और प्रोत्साहन मिलता रहे

  4. Sir i am waiting your new post.

  5. pushpendra ji
    aapke blog par pahli baar aaya hu achhikhabar ke madhyam se.achha likhte hai aap mujhe achha laga
    dhanywaad……….

  6. Aapka bahut bahut dhanyawad Satendra ji.

  7. NICE ARTICLE THANKS FOR SHARING

    PRIYANKA PATHAK
    http://dolafz.com/

  8. SIRAJ KHALIFA // February 8, 2016 at 4:14 PM // Reply

    pushpendraji
    aapke blog par paheli baar aaya hu… achhikhabar.com ke madhayam se .

    Very Nice Real Story !!!

    Thank you !!

  9. बेहद प्रेरणादायक कहानी ही कुमार जी और ऐसे ही हमे प्रेरणा देते रहिये

  10. where is a will, there is a way
    Jack ma is inspiration for all Asian peoples.
    nice post

  11. Bahut hi prernadayak success story hai……ese hi likhte rahiye……thanks for share……

  12. Failure means SUCCESS!

  13. very inspiring story. Koi bhi Rejections or failures se chhota nahi hota.

  14. Very Nice Article thanks for sharing. Please visits Good Article about Yoga and Meditation blog

    http://www.meditationyogacenter.in/

5 Trackbacks & Pingbacks

  1. Jack Ma Quotes in Hindi | Gyan Versha
  2. मजदूर के बेटे ने खड़ी की 100 करोड़ की कम्पनी | Gyan Versha
  3. टैक्सी चलाने वाले ने खड़ा किया 45 हजार करोड़ का साम्राज्य | Gyan Versha
  4. कभी बर्तन माँजने वाले, तीसरी पास, शख्स को मिला पदमश्री अवार्ड | Gyan Versha
  5. Rejection को Handle करने के 8 तरीके | Gyan Versha

Leave a comment

Your email address will not be published.


*