किताब पढ़ने के दस फायदे

If you like this article, Please Share it on

किताब पढ़ने के दस फायदे। (10 Benefits of reading books)

आपने last time किताब कब पढ़ी थी?

ये सवाल स्कूल, कॉलेज जाने वाले छात्र छात्राओं से नहीं हैं। ये सवाल है उन नौकरी पेशा युवाओं से जो कॉलेज से निकल कर अपना भविष्य संवारने में लगे हुये हैं। ये सवाल है उन सभी लोगों से, जो कहीं ना कहीं नौकरी कर रहे हैं, अपना काम कर रहे हैं। यूँ तो अपने सपने पूरे करने में, अपनी, अपने परिवार की जिम्मेदारियों को निभाने के चलते, दिनभर काम की थकान, व्यस्तता आदि के चलते पढ़ने के लिये समय निकाल पाना बहुत मुश्किल है। लेकिन जनाब अगर आप पढ़ने के फायदों के बारे में सुनोगे तो हो सकता है कि आप पढ़ने की आदत डाल लें।

दुनियाँ में जितने भी सफल और महान लोग हैं चाहे वो रतन टाटा हो, जहाँगीर भाभा हो, बिल गेट्स हो, महात्मा गाँधी हो, भीमराव अम्बेडकर हो, सभी के अन्दर एक आदत Common है और वो है पढ़ने की आदत। कहते हैं कि किताबें इंसान की सबसे अच्छी दोस्त होती हैं। आप चाहें किताब पढ़ें, newspaper पढ़ें, magazine पढ़ें, blog पढ़ें, रोजाना पढ़ना ना केवल स्वास्थ्य की दृष्टी से फायदेमंद है बल्कि यह आपकी जानकारी (Knowledge) बढ़ाता है, सोचने और जीने के नजरिये में भी बदलाव लाता है।

10 Benefits of reading books

इसे भी पढ़ें : 55 तरीकों से बनायें अपनी रोजाना की जिन्दगी को बेहतर

आज मैं Gyanversha पर आपको रोजाना पढ़ने के 10 फायदे बता रहा हूँ। तो आइये डालते हैं रोजाना पढ़ने के 10 फायदों पर एक नजर।

1. एकाग्रता बढ़ती है। (Focus / Concentration increases)

जब आप पढ़ते हैं तो आपका ध्यान एक जगह पर केन्द्रित हो जाता है। यानि कि पढ़ने पर। रोजाना पढ़ने की यह आदत आपकी concentration को बढ़ाती है। आपका दिमाग इधर-उधर की बातों से हटकर पढ़ने पर Focus हो जाता है। दिन भर की काम की व्यस्तता के बीच आप इतना Concentrate कभी नहीं हो पाते हैं जितना कुछ पढ़ते समय होते हैं। इसलिये रोजाना पढ़ने की आदत डालिये।

2. दिमाग सक्रिय होता है। (The brain is active)

रोजाना पढ़ने से आपका दिमाग active होता है, exited होता है। दिमाग की नसों को आराम मिलता है। जिससे दिमाग स्वस्थ होता है।

3. तनाव कम होता है। ( Reduce Tension / Stress)

पढ़ते समय आप किताब / स्टोरी में खो जाते हैं। इधर-उधर की बातों से दूर हो जाते हैं खुद को relax महसूस करते हैं। अत: रोजाना पढ़ने की आदत आपका तनाव कम  (tension free) करती है, आपकी दिन भर की थकान, stress को कम करती है। इसलिये अपनी थकान, तनाव और stress को कम करने के लिये रोजाना अपना पसंदीदा, उपन्यास, किताब या blog पढ़ें।

इसे भी पढ़ें :  जिद्दी बनो : बिना जिद के आप इतिहास नहीं रच सकते

4. जानकारी बढ़ती है। (Knowledge increases)

रोजाना पढ़ने से आपकी जानकारी बढ़ती हैं, ज्ञान बढ़ता है। नये नये शब्द, नयी नयी बातें पता चलती हैं। जिंदगी को देखने का, जीने का नजरिया बदलता है। नये नये Ideas दिमाग में आते हैं। जिंदगी के फैसलें समझदारी से लेने लगते हैं। एक universal truth है कि आप अपनी जिंदगी में सब कुछ खो सकते हैं, नौकरी, व्यवसाय, धन, परिवार और यहाँ तक कि अपना स्वास्थय भी, लेकिन आपका ज्ञान, आपकी जानकारी, आपकी बुद्धि को कोई आपसे नहीं छीन सकता।

5. बात करने / बोलने / लिखने की कला विकसित होती है। (The art of talking / speaking / writing is developed)

जानकारी के अभाव में कई जगह आपको चुप रहना पड़ता है, बात करने में झिझक (hesitation) होती है या ढंग से बात नहीं कर पाते हैं। रोजाना पढ़ने की आदत आपको एक अच्छा communicater बनाती है। पढ़ने से आपके ज्ञान, आपकी जानकारी में बढ़ोत्तरी होती है जिसके आधार पर आप किसी से भी, कहीं पर भी, किसी भी topic पर बात कर सकते हैं। आपके बोलने का, बात करने का आत्मविश्वास बढ़ता है। आप अपनी बात को, अपने अपने विचारों को बेहतर ढंग से, बेहतर तरीके से कर सकते हैं, दूसरों को समझा सकते हैं, लिख सकते हैं। जो अच्छा बोल सकता है वह अच्छा लिख भी सकता है।

इसे भी पढ़ेंये 6 काम आपकी जिन्दगी को बर्बाद कर सकते हैं।

6. कल्पनाशीलता बढ़ती है। (Imagination power & analytical skills)

आप कोई किताब पढ़ते हैं तो उसमे लिखी बातों को, उसमे बताये तरीकों को अपनी जिन्दगी से जोड़कर देखने लग जाते हैं, अपनी जिंदगी में उतारना शुरू कर देते हैं। जब आप किसी horror/ suspense   उपन्यास को पढ़ते हैं तो उसके पात्र, घटनायें आपके जेहन (mind) में उतरने लगते हैं और आप उपन्यास को पूरा पढ़े बिना ही उसके conclusion को समझने का प्रयास करने लग जाते हैं या समझ जाते हैं। रोजाना पढ़ने से आपकी कल्पनाशीलता (Imagination power) बढती है, आपकी सोच का दायरा बढ़ता है, आपकी सोचने, समझने की शक्ति बढती है, आपकी विश्लेषण क्षमता (analytical skills) में वृद्धि होती है। आप दिन पे दिन पहले से Mature होते जाते हैं।

7. याददाश्त बढती है। (Memory power increases)

जब भी आप कोई उपन्यास या कहानी की किताब पढ़ते हैं, तो उसके किरदार, पृष्ठभूमि आपको काफी दिन तक याद रहते हैं। रोजाना पढ़ने की आदत आपकी याद करने की और याद रखने की क्षमता का विकास करती है आपकी याददाश्त दिन पे दिन पहले से बेहतर होती जाती है। दिमाग का विकास होता है।

इसे भी पढ़ें :  एक अच्छा प्रेमी (Boy friend) कैसे बनें? 12 तरीके अच्छा प्रेमी बनने के।

8. अच्छी नींद आती है। (You sleep better)

आपने कई जगह पढ़ा होगा या सुना होगा कि जब नींद ना आये तो किताब पढना शुरू कर दो, आपको अच्छी नींद आयेगी। रात को सोने से पहले जब आप किताब पढ़ते हैं, तो आपका दिमाग थकता है, दिमाग की नसें शांत होती हैं जो अच्छी नीदं लाने में सहायक होती है। इसलिये अच्छी नीदं के लिये रोजाना सोने से पहले एक घंटा पढ़ने की आदत डालें।

9. अकेलापन दूर होता है। (Loneliness is far away)

किताबें इंसान की सच्ची दोस्त होती हैं। ये आपके अकेलेपन को दूर करने में मदद करती हैं। जब भी आप अपने आपको अकेला या बोर महसूस करो, पढ़ना शुरू कर दो। पढ़ने की आदत आपमें नई उर्जा भरती हैं, आपकी बोरियत को दूर करती हैं, आपके mood को change करती हैं, आपको relax करती है।

इसे भी पढ़ें :  जिन्दगी में आगे बढ़ना है तो ये 12 काम आपको तुरन्त छोड़ देनें चाहिए

10. आपको एक बेहतर इंसान बनाती हैं। (Make you a better person)

रोजाना पढ़ने की आदत आपकी जिंदगी में कई बदलाव करती है। ये आपके ज्ञान को बढाकर  आपको पहले से ज्यादा परिपक्व (mature) बनाती हैं। आपके सोचने का नजरिया बदल जाता है। जिंदगी के फैसलें समझदारी से करते हैं। अपनी, अपने परिवार, रिश्तो के प्रति आपको अपनी जिम्मेदारियों का एहसास होता है। आप पहले से बेहतर इंसान बन जाते हैं।

 

क्या पढ़ें:-

ये बहुत महत्वपूर्ण है कि आप पढ़ते क्या हैं? आप जैसा पढ़ेंगे आप वैसा ही सोचेंगे और आप जैसा सोचेंगे आप वैसा ही बन जायेंगे। अत: आप जिंदगी को बदलने वाली, प्रेरणादायक, रिश्तों की अहमियत समझाने वाली, जिंदगी में प्यार, मानवता, इंसानियत को बढ़ाने वाली, कल्पनाशीलता, Creativity बढ़ाने वाली, देश दुनियाँ के बारे में ज्ञान कराने वाली, धर्म, कर्म, संस्कृति के बारे में ज्ञान देने वाली किताबें, articals, novels blogs बढ़ेंगे तो अच्छा है।

मैं क्या पढ़ता हूँ :-

मैं रोज सुबह आफिस जाते समय और वापस आते समय मोबाइल में समाचार (news) और general knowledge पढ़ता हूँ। दिन में एक घंटा time निकालकर mobile में “भगवत गीता” पढता हूँ । रात को सोने से पहले Motivational blogs या कोई प्रेरणादायक किताब पढ़ता हूँ या फिर artical लिखता हूँ। Sunday को Health, love , relationship से related books / magazine पढ़ता हूँ।

तो दोस्तों, आज से अपने busy schedule में से कुछ time निकालकर पढने के आदत डाल लें।

 

Related Articals :-

 


“आपको ये  आर्टिकल कैसा लगा  , कृप्या कमेंट के माध्यम से  मुझे बताएं ………धन्यवाद”

“यदि आपके पास हिंदी में  कोई  Life Changing Article, Positive Thinking, Self Confidence, Personal Development,  Motivation , Health या  Relationship से  related कोई  story या जानकारी है  जिसे आप  इस  Blog पर  Publish कराना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो और  details के साथ  हमें  gyanversha1@gmail.com  पर  E-mail करें।

पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. ………………धन्यवाद् !”

—————————————————————————————————–

दोस्तों  मैं अपने रोजाना के कई घंटे इस ब्लॉग की पोस्ट लिखने में invest करता हूँ और ये ब्लॉग लोगो की सेवा के उद्देश्य से बनाया गया है ताकि इस पर ऐसी पोस्ट प्रकाशित की जाये जिससे लोगो को अपनी ज़िंदगी में आगे बढ़ने में मदद मिल सके, लोग निराशा से बाहर निकल सकें और अपनी जिंदगी को बेहतर बना सकें ……… अगर आपको मेरा ये काम और  ये ब्लॉग पसंद आता है और इस पर प्रकाशित पोस्ट आपके लिए लाभदायक है तो कृपया इसकी पोस्ट और इस ब्लॉग को ज़्यादा से ज़्यादा लोगों के साथ Share करें ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोगो को इसका लाभ मिल सके………
और सभी नयी पोस्ट अपने Mail Box में प्राप्त करने के लिए कृपया इस ब्लॉग को Subscribe करें।


 

नए पोस्ट अपने E-mail पर तुरंत प्राप्त करने के लिए यहाँ अपना नाम और E-mail ID लिखकर Subscribe करें।


If you like this article, Please Share it on
About Pushpendra Kumar Singh 160 Articles
Hi Guys, This is Pushpendra Kumar Singh behind this motivational blog. I founded this blog to share motivational articles on different categories to make a change in human livings. I love to serve the people and motivate them.I love to read and write motivational things................... More About Me .....................Follow me on social sites

4 Comments

  1. किताबें हमारी सबसे अच्छी दोस्त होती हैं | जो किताब पढने का शौक़ीन होता है वो कभी अकेला नहीं महसूस करता | किताब पढने के फायदे बताती बहुत अच्छी पोस्ट |

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*