Curriculum vitae क्या होता है और ये कहाँ जरुरी होता है?

If you like this article, Please Share it on
  • 8
    Shares

 

Curriculum vitae क्या होता है और ये कहाँ जरुरी होता है? (What is curriculum vitae & where it is required?)

बहुत से लोगों को, fresher students  को और यहाँ तक कि कई साल का अनुभव रखने वाले experienced professionals तक को यह पता नहीं होता है कि रिज्यूमे और CV में क्या अन्तर होता है? ज्यादातर लोग रिज्यूमे और CV को एक ही समझते हैं। और हर कम्पनी में हर profile के लिए एक ही resume/CV को भेजते रहते हैं। जिससे उनकी job मिलने की possibilities तो खत्म हो ही जाती हैं साथ ही साथ HR/Hiring Manager भी irritate हो जाता है।

what is cv

Resume और CV दोनों अलग अलग चीज हैं और अलग अलग job profile के लिए अलग अलग use होती हैं। Resume और CV का purpose तो एक ही होता है लेकिन दोनों में अन्तर होता है।

इसे भी पढ़ें :-  रिज्यूमे क्या होता है? और क्यों जरुरी होता है?

अपने पिछले artical में मैंने आपको बताया था कि रिज्यूमे क्या होता है और रिज्यूमे क्यों जरुरी होता है? आज के इस आर्टिकल में मैं आपको बताउँगा कि CV क्या होता है और ये कहाँ जरुरी होता है?

Curriculum Vitae (CV) क्या होता है? (What is CV?)

जैसा कि मैंने पिछले artical में बताया था resume आपकी शिक्षा, योग्यता, कार्य अनुभव और उपलब्धियों का संक्षिप्त विवरण होता है। Resume में आपके कार्य अनुभव, strength से जुड़ी जानकारियां होती हैं। Resume हमेशा किसी कम्पनी की vacancy के job profile से सम्बंधित keywords पर आधारित होता है।

इसे भी पढ़ें :-  Resume और CV में क्या अन्तर है ?

इसे भी पढ़ें :- Fresher या नये students को अच्छी नौकरी पाने के लिए 10 Tips

CV भी रिज्यूमे की तरह ही job application के लिए एक document ही होता है। CV की full form Curriculum Vitae  होता है। जिसका Latin भाषा में मतलब होता है “Course of Life”।  CV एक ऐसा document होता है जिसमे आपकी शिक्षा, कार्य अनुभव, उपलब्धियाँ आदि detail में होती हैं। CV में आपकी personal details, academic details, teaching experiences, research positions, scholarship, awards, grants, honors, presentations, thesis, research papers, आदि हर चीज का ब्यौरा होता है। CV के लिए कोई page limits नहीं होती है क्योंकि इसमें हर बात विस्तृत रूप (detailed form) में लिखी होती है। CV में आपकी education, academic, experience, research से जुड़ी जानकारियाँ add होती रहती है। जिससे इसका size बड़ा होता जाता है। CV हर job positions के लिए एक ही होता है और सभी जगह एक ही CV भेजा जाता है। CV job profile के हिसाब से change नहीं होता है।

CV में आपकी अब तक की सारी details होती हैं, जैसे:- Skills की लिस्ट, अब तक कि सभी job positions, experience, डिग्रियाँ, life achievments etc। CV के pattern को समझने के लिए नीचे दिए example को देखें और समझें ।

इसे भी पढ़ें :- 10 Tips – Interview की तैयारी करने के लिए

what is cv

CV क्यों जरुरी होता है? (why CV is required?)

CV को देखकर hiring managers candidates के career backgrounds के बारे में हर बात, हर चीज, हर जानकारी विस्तृत रूप से जान लेते हैं। CV से hiring manager को candidate के career profile से कम्पनी के job profile को match करने में मदद मिलती है। CV के आधार पर hiring manager ये decision लेता है कि उस candidate को इंटरव्यू के लिए बुलाना है या नहीं। इसलिए CV, किसी इंटरव्यू के लिए जाने का एक ticket है।

इसे भी पढ़ें :-  इन्टरव्यू के दौरान क्या करें ?

CV कहाँ दिया जाता है? (Where CV is required?)

CV ज्यादातर academic positions, teaching, faculty positions, assistantships, internship, grant, scholarship, fellowships application के लिए दिया जाता है। Private job, industrial jobs के लिए CV नहीं दिया जाता है।

Freshers किसी भी job के लिए CV भेज सकते हैं, क्योंकि उनके पास work experience नहीं होता है।

बहुत बड़ी job positions या senior level या 10-15 साल से ज्यादा experience वालों का CV ही job opening के लिए भेजा जाता है।

 

Related Article :

 


“आपको ये  आर्टिकल कैसा लगा  , कृप्या कमेंट के माध्यम से  मुझे बताएं ………धन्यवाद”

“यदि आपके पास हिंदी में  कोई  Life Changing Article, Positive Thinking, Self Confidence, Personal Development,  Motivation , Health या  Relationship से  related कोई  story या जानकारी है  जिसे आप  इस  Blog पर  Publish कराना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो और  details के साथ  हमें  gyanversha1@gmail.com  पर  E-mail करें।

पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. ………………धन्यवाद् !”


 


If you like this article, Please Share it on
  • 8
    Shares
About Pushpendra Kumar Singh 161 Articles
Hi Guys, This is Pushpendra Kumar Singh behind this motivational blog. I founded this blog to share motivational articles on different categories to make a change in human livings. I love to serve the people and motivate them.I love to read and write motivational things................... More About Me .....................Follow me on social sites

1 Comment

8 Trackbacks / Pingbacks

  1. रिज्यूमे क्या होता है? और क्यों जरुरी होता है? | Gyan Versha
  2. Resume और CV में क्या अन्तर है ? | Gyan Versha
  3. Fresher या नये students को अच्छी नौकरी पाने के लिए 10 Tips | Gyan Versha
  4. क्या आप सही नौकरी कर रहे हैं? खुद से पूछें 10 सवाल | Gyan Versha
  5. ऑफिस पहुँचकर सबसे पहले ये 6 काम करें | Gyan Versha
  6. इन्टरव्यू के दौरान क्या करें ? | Gyan Versha
  7. 10 Tips - Interview की तैयारी करने के लिए | Gyan Versha
  8. इन्टरव्यू के दौरान क्या ना करें ? | Gyan Versha

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*